माँ


रात भर कल,
खोजता रहा नींद को ...
.
और वो छुपी बैठी थी,
माँ तेरी गोद में||



Comments

Popular posts from this blog

टीम होटल में अब नहीं आ सकेंगी क्रिकेटरों की गर्लफ्रेंड

कभी एक रात

Mirza Ghalib Episode 1 (Doordarshan) Deciphered